Rajdoot Bike: 70 के दशक की बाइक कहलाती है किंग, माइलेज में बुलेट को भी छोड़ा पीछे नमस्कार दोस्तों आज किस पोस्ट में हम आपको Rajdoot Bike की संपूर्ण जानकारी देंगे तो बने रहिए हमारी स्पष्ट के साथ। 70 का दशक जब देश में कुछ इंपोर्ट की हुई या आजादी से पहले की अंग्रेजों की छोड़ी कुछ ही मोटरसाइकिलें नजर आती थीं. बीएसए जैसी कंपनियों की मोटरसाइकिल इस दौरान कुछ अमीरों के गैराज की शोभा बढ़ाती थीं और रॉयल एनफील्ड बुलेट  भी एक भारी भरकम और कम माइलेज वाली बाइक होने के चलते केवल कुछ ही लोगों तक सीमित थी. फिर एक बदलाव का दौर आया, एक नई मोटरसाइकिल ने दस्तक दी और ये चलाने में आसान थी,

social whatsapp circle 512WhatsApp GroupJoin WhatsApp

इसका वजन कम और इसमें नए कार्बोरेटर डिजाइन का इस्तेमाल किया गया था जिसके चलते लोग इस मोटरसाइकिल के दीवाने हो गए. न केवल शहरों में बल्कि उस दौरान ग्रामीण इलाकों में भी इस मोटरसाइकिल को लेने के लिए लोग कई महीनों तक इंतजार किया करते थे. इस बाइक के लुक्स को भी काफी बदला गया, इसी बाइक से शुरू हुआ ऐसा डिजाइन जो आ भी स्लीक और डेली यूज मोटरसाइकिलों में देखने को मिलता है

read more:Samsung Galaxy M34 5G: मात्र इस कीमत पर सैमसंग गैलेक्सी स्मार्टफोन पर भारी डिस्काउंट जल्द उठे मौके का फायदा

राजदूत के नाम से फेमस हुई इस बाइक का पूरा नाम राजदूत एक्सेल

इस शानदार बाइक की बात करे तो राजदूत (Rajdoot) की राजदूत के नाम से फेमस हुई इस बाइक का पूरा नाम राजदूत एक्सेल टी था. कभी देश की सड़कों पर शान की सवारी मानी जाने वाली ये मोटरसाइकिल 30 साल से भी ज्यादा समय तक मौजूद रही. इस बाइक का निर्माण एक्सकॉर्ट और यामाहा की साझेदारी ने किया था. इसी के बाद देश में यामाहा की दूसरी मोटरसाइकिलों ने भी दस्तक दी आज राजदूत का जिक्र इसलिए क्योंकि चर्चा है कि एक बार फिर ये सड़कों की रानी कहलाने वाली बाइक वापसी करने को तैयार है. हालांकि अब एक्सकॉर्ट केवल ट्रैक्टर व अन्य कमर्शियल व्हीकल का ही प्रोडक्‍शन करती है लेकिन अब खबर है कि एक बार फिर नए डिजाइन और टेक्नोलॉजी के साथ राजदूत को तैयार किया जा रहा है

Rajdoot Bike इंजन पावर

बात करे इंजन बात करे तो शानदार टेक्नोलॉजी से लैस इंजनबाइक में पहली बार ऐसे कार्बोरेटर का इस्तेमाल किया गया था जो टू चैनल था. यानि इसमें एयर और पेट्रोल का मिक्स बिल्कुल सही होता था और बाइक बेहतरीन माइलेज देती थी. इसमें 173 सीसी के इंजन का इस्तेमाल किया गया था जो हल्का था और काफी पैपी था. बाइक का वजन भी कम होने के चलते इसका पिकअप काफी बेहतर था. साथ ही टू स्ट्रोक इंजन होने के चलते इसमें काफी पावर भी थी, जिससे ये कच्चे हों या पक्के हर रास्ते पर चलने के लिए परफेक्ट सवारी थी. बाइक में 13 लीटर का पेट्रोल टैंक था, जिसके चलते ये फुल टैंक पर 700 किलोमीटर तक का माइलेज देने में सक्षम थी

read more:Bajaj Pulsar N160: बजाज की इस नए मॉडल में मचाया घमासान फीचर से लेकर माइलेज तक सब हे शानदार

Rajdoot Bike अब क्या होंगे बदलाव

हम आपको बताएंगे की नई राजदूत में पूरी तरह से बदला हुआ 250 सीसी का फोर स्ट्रोक इंजन देखने को मिल सकता है. ये लिक्विड कूल्ड होगा जिससे बाइक की परफॉर्मेंस बेहतर होगी. साथ ही इसका माइलेज भी काफी बढ़ जाएगा. वहीं अब बाइक में काफी लेटेस्ट फीचर्स भी देखने को मिलेंगे. इसमें डिजिटल डिस्‍प्ले, नेविगेशन, ड्राइव एनालिट‌िक्स, मोबाइल चार्जिंग, स्‍लीपर क्लच जैसे ढेरों फीचर्स होंगे

Description: आज की इस पोस्ट में हम आपको Rajdoot Bike के बारे में बताएंगे जो कि हमने न्यूजपेपर और समाचार पत्र के माध्यम से एकत्रित किया है अगर इसमें कोई आपत्ति हो तो हमारी वेबसाइट नीमच ब्रेकिंग की कोई जवाबदारी नहीं होगी अगर आपको हमारा आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अधिक से अधिक शेयर करें और फीडबैक भी दे